शारीरिक दुर्बलता दूर करने का आयुर्वेदिक उपाय – Get Rid of Physical weakness

Ramdevbabayog.com - Physical weakness

Sharing is caring!

शारीरिक दुर्बलता दूर करने का आयुर्वेदिक उपाय – Get Rid of Physical weakness

Physical Weakness (शारीरिक दुर्बलता) आज के समय में तेज़ी से विकसीत हो रही है| बहुत से युवा इसके शिकार है| शारीरिक कमजोरी (Physical weakness) को दूर करने के लिए युवा जिम जाते है पसीना बहाते है और महंगे-महंगे पावडर भी खाते है| लेकिन इसका प्रभाव तभी तक उनके साथ रहता है जब तक वे इसका सेवन करते है|

लेकिन हमारे इस आर्टिकल में हम आपको ऐसा नुस्खा बताने वाले है जिसके प्रयोग से आपका शरीर 70 की उम्र में भी 35 की तरह हो जायेगा और आपके शरीर की कमजोरी जड़ से दूर हो जायेगी| बस जरूरत है इसे अच्छी तरह से उपयोग करने की|

कैसे उपयोग करना है नुस्खा को –

(शारीरिक दुर्बलता – Physical Weakness) प्रथम माह के प्रथम सप्ताह में –
लह्शुन की 4 कली के दाने छिलकर 1 गिलास जल में पीसकर पी ले| और उसके तुरंत बाद गाय के दूध से निर्मित दही का निकाला हुआ मक्खन पचास ग्राम मात्रा में लेकर खा ले| यह क्रिया दिनभर में 4 बार करे|
(शारीरिक दुर्बलता – Physical Weakness) प्रथम माह के दितीय सप्ताह में –
लह्शुन की 4 कली के दाने छिलकर 25 ग्राम शहद में मिलाकर पी ले| और उसके बाद गाय दुग्ध से निर्मित मक्खन – 50 ग्राम की खुराक में खाये| यह दिन में चार बार करे|

यह भी पढ़े –
चना और गोखरू का ये प्रयोग देगा आपको लोहपुरुष जैसी ताकत – Uses of Chana and Goghru

(शारीरिक दुर्बलता – Physical Weakness) प्रथम माह के तृतीय सप्ताह में –
लह्शुन की 5 कली के दाने छिलकर बीजरहित द्राक्षा दाने 10 नग पानी में पीसकर पी ले| और उसके पश्चात् तुरंत गाय के दूध से निर्मित मक्खन 50-ग्राम की मात्रा में खा ले| यह आप दिन में 4 बार करे|
(शारीरिक दुर्बलता – Physical Weakness) प्रथम माह के चतुर्थ सप्ताह में –
लह्शुन की 5 कली के दाने छिलकर, हरे आंवला के आधा प्याला रस में घोटकर पिए| और उसके बाद तुरंत गाय के दूध का मक्खन 50 ग्राम मात्रा में खाले| यह प्रतिदिन 4 बार करे|
दुसरे माह में –

औषधी का क्रम प्रथम माह के अनुसार ही प्रत्येक सप्ताह का रखे केवल आहार गौदुग्ध का ही करे|

तीसरे माह में –

लह्शुन कली 10 नग, शहद 10 ग्राम, बीज रहित काली द्राक्षा 10 ग्राम, आंवला रस 30 ग्राम को आपस में पीसकर चटनी बना ले और फिर चाट ले| और उसके तुरंत बाद गाय के दही का निकला हुआ मक्खन 50 ग्राम ग्रहण करे| यह क्रिया दिन में 4 बार करे|

यह भी पढ़े –
पसीने से छुटकारा कैसे पाए – How to Stop Sweating in Hindi

जब यह विधी पूरी हो जाये तो प्रारम्भ में कई दिनों तक (15-20 दिन) पतली खिचडी खाए और फिर धीरे-धीर अन्न बढ़ाते हुए साधारण भोजन पर आये| इस प्रयोग को 70 वर्ष की आयु में करने से शरीर 35 वर्षवय हो जाता है| इतना ही नहीं इस प्रयोग से क्षयरोग (ट्युबरक्यूलोसिस), कैंसर व दमा आदि रोग भी निर्मूल हो जाते है|

प्रयोगकाल में इन बातो का ध्यान रखे – Get Rid of Physical Weakness

1. यह प्रयोग तभ ही करे जब हरे आंवले मिलने लगे अर्थात कार्तिक से पौष माह तक प्रयोग प्रारम्भ करना उचित होगा|

2. प्रयोगकाल के प्रथम माह में साधारण भोजन किया जा सकता है| उसके बाद 2 माह तक केवल गाय का दूध बिना चीनी के सेवन करना है चाहे आप जितना दूध पीना चाहते हो पी सकते हो और जीतनी बार पीना चाहते हो पी सकते हो| लेकिन दूसरा किसी भी प्रकार का भोजन प्रयोगकाल में वर्जित है|
3. प्रयोगकाल में प्रतिदिन पूरे शरीर में सरसों के तेल की मालिश कराई जानी आवश्यक है|

इस पोस्ट को आप अपने रिलेटिव एवं फ्रेंड्स के साथ whatsapp एवं Facebook पर अवश्य शेयर करे| हो सकता है आपका एक share किसी के स्वास्थ्य में सुधार ला सकता है|
Sharing is Caring

इसी के साथ हमारा यह लेख समाप्त होता है अगर आपको (इस प्रयोग से 70 वर्ष की आयु में भी शरीर होगा 35 वर्ष का – Get Rid Physical weakness) इससे सम्बन्धित कुछ भी जानना है या राय देनी है तो आप निचे कमेंट बॉक्स में Comment कर सकते है|

ॐ सर्वे भवन्तु सुखिनः, सर्वे सन्तु निरामयाः ।
सर्वे भद्राणि पश्यन्तु, मा कश्चिद्दुःखभाग्भवेत् ।
ॐ शान्तिः शान्तिः शान्तिः ॥

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here